जाने कहां गए वो दिन………….

(कक्काजी  स्व.  परमेश्वर  कुमर को याद करते  हुए) आज  की गला –घोंट राजनीतिक प्रतिस्पर्धा के युग में परमेश्वर कुमर जो एक प्रखर स्वतन्त्रता सेनानी , चौहत्तर  आन्दोलन  के तपे –तपाये   अपनी  मिटटी  से  गहरे  जुड़े  जन-नेता थे, कुछ-कुछ अप्रासंगिक हो …